जन सुविधा केंद्र एवं इंटरनेट कैफे संचालित करने वालों के लिए विशेष सूचना....

जन सुविधा केंद्र एवं इंटरनेट कैफे संचालित करने वालों के लिए विशेष सूचना....

सभी जन सेवा केंद्र एवं इंटरनेट कैफे संचालित करने वालों के लिए एक बेहतरीन अवसर......

क्या आप जानते हैं कि समाज को बेहतर सेवाएं देने के बाद भी आप कोई अतिरिक्त आय अर्जित नहीं कर पाते इसका मुख्य कारण राज्य या राष्ट्रीय स्तर पर साइबर कैफे संगठन का ना होना माना गया है। एम.वी.पी.एस की साइबर शाखा देश के सभी जन सेवा केंद्र एवं इंटरनेट कैफे संचालित करने वालों को एक मंच पर  संगठित करके उनकी आमदनी मे बढ़ोतरी करने संबंधी योजनाओं पर कार्य कर रही है। इसमें कैसे आप अपनी आय में वृद्धि कर सकते हैं आप को उन सभी योजनाओं से अवगत कराया जाएगा। इसके लिए आपको कोई भी अतिरिक्त संसाधन जुटाने की आवश्यकता नहीं है। आवश्यकता है तो सिर्फ संगठित होने की। इसलिए आप सभी जन सेवा केंद्र, इंटरनेट कैफे, एवं अन्य साइबर सुविधा प्रदान करने वाले संचालकों से अनुरोध है कि आप सभी को एक  मंच पर संगठित करने के हमारे इस प्रयास को सफल बनाएं। इसके लिए आपको सिर्फ अपने और अपने जन सुविधा केंद्र, इंटरनेट कैफे, का ब्यौरा जैसे कि जन सेवा केंद्र. इंटरनेट कैफे का नाम, पता, ईमेल एड्रेस, आधार कार्ड, मोबाइल और लैंडलाइन नंबर, ईमेल [email protected] पर हमारे साथ शेयर करना है। उसके बाद हम समय-समय पर आपको अतिरिक्त आय अर्जित करने से संबंधित योजनाओं के बारे में जानकारी देते रहेंगे। हमें इस बात को कभी नहीं भूलना चाहिए कि सूचना प्रौद्योगिकी के इस अत्याधुनिक युग मे आज हर व्यक्ति के हाथ में मोबाइल और इंटरनेट है लेकिन फिर भी अधिकतर ऑनलाइन गतिविधियों के लिए उन्हें साइबर कैफे, जन सेवा केंद्र,इंटरनेट कैफे आदि माध्यमों का ही सहारा लेना पड़ता है।संगठन किसी समुदाय का हो या व्यवसाय का उसकी अपनी अलग ही ताकत होती है।